Spread the love

करंट न्यूज ब्यूरो
रामपुर बुशहर


शनिवार देर शाम को एसजेवीएन रामपुर परियोजना ने दतनगर में जीवनदायिनी सतलुज की आरती व आराधना का कार्यक्रम शुरू हुआ।

आराधना का कार्यक्रम देर शाम को लगभग सात बजे से शुरू हुये सतलुज नदी आराधना कार्यक्रम को बनारस से आए छ: पंडितों ने वेद मंत्रों के उच्चारण से भक्तिमय बना दिया।

देर रात लगभग 9:30 बजे चले सतलुज नदी आराधना कार्यक्रम देखने के लिए परियोजना के कर्मचारियों सहित आसपास क्षेत्र के लोग भी बड़ी संख्या में मौजूद रहे। इस पावन अवसर पर निगम के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नंद लाल शर्मा मुख्यातिथि थे।

उनकी पत्नी ललिता शर्मा भी मौजूद रहीं। कार्यक्रम में सबसे पहले विभिन्न पंचायतों से आए ग्रामीणों ने मुख्यातिथि का स्वागत किया। जबकि आसपास के महिला मंडलों ने नृत्य लोकनृत्य से माहौल को रंगीन बनाते हुए सतलुज नदी को भी नमन किया।

उल्लेखनीय है कि एमडी नन्दलाल शर्मा ने सबसे पहले दत्तनगर में मानव सभ्यता के लिए जीवनदायिनी कहलाने वाली सतलुज की विधिवत पूजा-अर्चना की और हमेशा अपना आशीर्वाद बनाये रखने की अर्ज की। उन्होंने कहा कि सतलुज नन्दलाल शर्मा ने इस मौके पर अपने सम्बोधन में कहा कि जीवनदायिनी एसजेवीएन की नींव है।

ऐसे में सतलुज नदी की पूजा कर एसजेवीएन अपना आभार प्रकट कर रहा है। कहा कि एसजेवीएन का यहां से शुरू हुआ सफर आज विदेशों तक जा पहुंचा है। कहा कि जल्द ही लूहरी परियोजना भी तैयार होकर क्षेत्र के विकास में अपना सहयोग देगी।

उल्लेखनीय है कि गंगा नदी की तर्ज पर एसजेवीएन की ओर से शुरू की गई सतलुज नदी की आराधना बनारस और हरिद्वार से आए प्रसिद्ध पंडितों द्वारा की गई।

गंगा आरती की तर्ज पर रामपुर परियोजना प्रमुख मनोज कुमार, नाथपा झाकड़ी प्रोजेक्ट के प्रमुख रविचंद्र नेगी, लूहरी प्रोजेक्ट के प्रमुख रोशनलाल नेगी और जंगी थोपन प्रोजेक्ट के प्रमुख विकास महाजन सहित आसपास के ग्रामीण भी बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

Leave a Reply

You missed

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: